SEO क्या है ? Full SEO Guide in हिंदी। पूरी जानकारी Step by Step 2019 ।

seo kya hai

Hello Everyone , आज हम जानेंगे SEO क्या है ? Full SEO Guide in हिंदी। पूरी जानकारी Step by Step 2019 । जब भी कोई व्यक्ति एक Website बनाता है तो उसकी पूरी कोशिश होती है की वह कुछ ऐसा करे की उसका Website जल्दी ही Famous हो जाए, लोग अधिक से अधिक उसके Website पर Visit करें जिससे की Website पर Traffic बढ़ सके । ऐसा सिर्फ सोचना ही काफी नही है। इसके लिए ज़रूरी है की आप अपने Website के लिए उन सभी ज़रूरी बातों का ख्याल रखें जिससे की Website पर काफी फ़र्क पड़ता है ताकि आपका Website जल्दी Famous हो सके ।

Website को सफल बनाने वाली एक ऐसी ही एक चीज़ है SEO । यह तीन अक्षर सामान्य रूप से सुनने को मिल जाते हैं। यब केवल तीन अक्षर हैं लेकिन वास्तव में आपके Website की सफलता पूरी तरह सिर्फ और सिर्फ इसी तीन अक्षर पर निर्भर करता है। अगर आप एक Website के Owner है जो ज़रूरी है की आप इसके बारे में एक एक बात अच्छे से जाने ।

इस Article में इसी तीन अक्षर , SEO के बारे में बात की गयी है। इसमें हमने आसान शब्दों में SEO से जुड़ी सभी छोटी बड़ी और महत्वपूर्ण बातों को समझाने की कोशिश की है। इसके द्वारा हम समझेंगे की आखिर SEO क्या है, यह कैसे काम करता है, इसके क्या फायदे है इत्यादि इत्यादि । तो अगर आप भी अपने Website को कामयाब बनाना चाहते हैं और इस क्षेत्र में अपना नाम बनाना चाहते हैं तो इस Complete Article को पूरी तरह ध्यान से पढ़े । फिर इसी के अनुसार अपने Website को चलाएं। निश्चित ही आपको कामयाबी मिलेगी। सबसे पहले हम बताते हैं की आखिर SEO क्या है ।


SEO क्या है ?(Search Engine Optimization)

Search Engine Optimization को ही Short में SEO कहते हैं । SEO वह तरीका है जिसे ठीक ठीक Follow करने के बाद ही कोई Website किसी भी Search Engine के पहले Page पर दिखता है । इसे ऐसे भी समझ सकते हैं की SEO एक Complete Guide है जो की हमें बताता है की किन किन बातों को follow करने से हम अपने Website को पहले Page पर ला सकते हैं । SEO के अंदर कई अलग अलग point हैं जिसे Follow करने के बाद ही किसी Website को Search Engine में Top पर जगह मिलती है । दूसरे शब्दो में कह सकते हैं की SEO वह ज़रिया है जिससे Organic Seach Engine Rusult की मदद से Website पर Traffic बढाते हैं ।

जब भी हम internet के सहारे किसी चीज़ को Search Engine में खोजते हैं तो हम सबसे पहले उसी Result पर Click करते हैं जो की हमारे खोजने के बाद खुले Page पर सबसे ऊपर या पहले Page पर दिख रहा होता है। इसके अलावा हमारी प्राथमिकता पहले Page पर ही दिख रहे Content होते हैं। जो भी Content Search Engine पर पहले Page या top पर दिखता है वह SEO के ही कारण दिखता है । पहले Page पर दिखने वाले Website Content SEO की कसौटी पर पूरी तरह खड़े उतरते हैं जिस कारण वह पहले Page पर या Top पर दिख रहा होता है । SEO आपको बताता है की एक बेहतर Website के लिए किन किन बातों का ख्याल रखना ज़रूरी है ।

Article में आगे बढ़ने से पहले ज़रूरी है की पहले ये जान लें की आखिर Search Engine किसे कहते हैं।

Search Engine क्या है ?

सरल शब्दो में इसे ऐसे समझें की जब भी हम internet  पर कुछ भी search करते हैं तो वह  Search Engine में ही हैं और उसे कहते है । समान्यतः Internet की दुनिया में कई अलग अलग Search Engine मौजूद हैं । इन सब के बीच सबसे बड़ा Search Engine Google ही हैं । सामान्यतः हम सभी कुछ भी search के लिए सबसे पहले Google का ही सहारा लेते हैं । कुछ संख्या में लोग दूसरे Search Engine का भी उपयोग करते हैं । Google के अलावा कुछ दूसरे प्रमुख Search Engine Company में Bing, Yahoo इत्यादि का नाम आता है । उम्मीद है आप Serach Engine के बारे में समझ गए होंगे । अब SEO के बारे मे बताते हैं ।

जैसा की ऊपर चर्चा की गयी की SEO वह तरीका है जिसे Follow कर के Website को Search Engine में पहले page पर जगह मिलती है जिससे की Website पर Traffic बढ़ता है। अब बात करते हैं की SEO कितने तरह का होता है साथ ही इसके क्या फायदे हैं ।

SEO के प्रकार  ( Types Of SEO )

SEO Function के आधार पर मुख्यतः 2 तरह के होते हैं :-

  • White Hat SEO
  • Balck Hat SEO

एक Website को बेहतर तरीके से चलाने के लिए इन दोनो प्रकार को Details में समझना ज़रूरी है। इसलिये हम इसके बारे में विस्तार से बताएंगे। पहले बात करते हैं इसके पहले प्रकार यानी White Hat SEO की।

1. White Hat SEO

कुछ साल पहले तक लोग अपने Website को Promote करने और Traffic बढाने के लिए Low Quality Backlinks का जम कर उपयोग करते थे। Low Quality Backlink सामान्यतः Porn Website, Spam Site से ले कर कुछ ऐसे Website से होते थे जो की सबसे बड़े Search Engine Google के नियम के खिलाफ होते है। इसे ही नियंत्रित करने के लिए Google ने कुछ नियम बना दिए । White Hat SEO के अंतर्गत SEO के लिए उन्ही बातों को Follow किया जाता है जो की पूरी तरह Google के SEO के लिए  बनाए Guidelines के अंतर्गत होते हैं ।

White Hat SEO पूरी तरह Google Algorthms के अनुसार ही होता है । इसमें इसकी खामियों का फायदा उठाने की कोशिश नही की जाती बल्कि एक बताए रास्ते पर चलते हुए काम किया जाता है । बतादें की Google Algorithm Google का Content के लिए बनाया नियम है जिसके score के आधार पर ही content का Rank तय होता है । White Hat SEO में Content की Quality, Backlinks, HTML इत्यादि पर विशेष ध्यान दिया जाता है ।

Black Hat SEO

यह SEO का वह तरीका है जिसमें Website को Search Engine में Top में जगह दिलवाने के लिए Google के Guideline के इतर, इसमें खामी निकाल कर इसका कायदा उठाने की कोशिश होती है । हालांकि  Black Hat SEO आम User के बस की बात नही है । इस तरह के मामलों की संख्या नाममात्र का ही है । इसके लिए समान्यतः Spam Link, Hidden Text, Hidden Links इत्यादि का उपयोग किया जाता है। इस तरिके से Website Search Engine में लंबे समय तक बेहतर rank पर नही रह पाता है ।

SEO के White Hat और Black Hat SEO के अलावा इसका एक और Type है जिसे Gray Hat SEO कहते हैं।

Gray Hat SEO

Gray Hat SEO को White Hat और Black Hat SEO का मिश्रण कहा जा सकता हैं । इसमें न  तो Google SEO Guideline को Follow किया जाता है और न ही यह पूरी तरह Black Hat SEO है । इसके भी फायदे लंबे समय के लिए नही होते हैं ।

एक Website को Quality Website के रूप में Develope करने के लिए ज़रूरी है की हम Google के Guideline के According ही Website को संचालित करें । SEO के कई Techniques है जो की किसी भी Website को सफल बनाने के लिए जानना ज़रूरी है । आज के दौर में IT Sectors काफी Advance हो चुका है । समय के साथ साथ SEO के काफी Techniques आ चुके है । इनमें से आज के समय में उपयोग किए जाने वाले कुछ Technique की बारे में आगे बता रहे हैं ।

Techniques के आधार पर SEO को 2 Group में Divide किया गया है ।

  • On-Page SEO
  • Off-Page SEO

1.On-Page SEO

On-Page SEO से हमें उस बारे में जानकारी मिलती है जो की एक Website पर किसी Content के Publish करने से पहले ही करने होते हैं । On Page SEO के अन्तर्गत बताए गए बातों को Follow करने के बाद ही एक website किसी भी Search Engine में Top पर आता है ।

On Page SEO में हमें किसी content में Keywords, Internal Links, Meta Description, Customize URL इत्यादि पर ध्यान देना होता है ।

2. Off-Page SEO

Off-Page SEO उन बातों के बारे में बताता है जिसे किसी Content के Website पर Publish होने के बाद करना होता है । इसे कहा जा सकता है की Off-Page SEO में Content पर Traffic बढ़ाने के बारे में बताया गया है । इसके अंतर्गत Content को share, उस पर Comment, Post को अलग अलग Social Media Site पर Share करना इत्यादि शामिल है ।

Article में अब बात करते हैं On-Page SEO के अन्तर्गत आने वाले Terms की ।

On-Page SEO’s Techniques

1. Backlinks

Backlink वह link होता है जो की एक Website को दूसरे Website से जोड़ता है । Backlink का किसी भी Website के Rank को Serach Engine में तय करने में बड़ा महत्व होता है । इसलिए ध्यान देने वाली बात है की अपने Content के Backlink हमेशा quality Website यानी वैसे Website पर ही करें जिस Website पर अच्छा Traffic हो । इसका फायदा  यह होगा की जब ऐसी किसी Website पर लोग आएंगे और आपके Website का Links देखेंगे तो ज़रूर उधर भी आ सकते हैं । इससे आपके Website पर Visiters की संख्या बढ़ जाएगी ।

Read करें :-

Backlink Kya hai ?

2. Keywords

किसी भी Content की सफलता के लिए बेहतर Keywords होना बहुत ही ज़रूरी है । एक बात ध्यान में रखना होगा की जब भी आप किसी Topic पर Content लिखें तो सोचें की जो भी आप लिख रहे हैं, इसे पढ़ने के लिए लोग किस Words से search कर रहे है । आपको जो word ऐसा लगे उसका उपयोग Content में ज़रूर करें ।

Keywords 2 तरह के होते हैं । एक Primary Keyword और दूसरा Secondary Keyword । अगर आप 1500 से 2500 word का Content लिख रहे हैं तो इसमें कम से कम 8 – 15 बार Keywords का उपयोग ज़रूर करें। ऐसे keywords, Primary Keywords कहलाते हैं । जब आप Content में सिर्फ एक बार ही Keyword का उपयोग करते हैं तो वह Secondary Keywords कहलाता है । Keywords ही Google Algorithm को Content के Type को समझने में मदद करता हैं । इससे भी Rank निर्धारित होता है ।

3. Meta Tag

Meta Tag  भी एक SEO Website के लिए महत्वपूर्ण  होता है । Meta tag को किसी भी Content  का सारांश भी कह सकते हैं । Meta Tag किसी भी Website पर नज़र नही आता है बल्कि यह एक Code के रूप में रहता है ।

4. Meta Description

Meta Description एक SEO Web Page के लिए ज़रूरी और महत्वपूर्ण भाग होता है । अपने Website पर लोगों को attract करने के नज़रिये से Meta Description काफी महत्व रखता हैं । अकसर लोग किसी चीज़ को Search करने के बाद result सामने आने पर किसी भी link  पर Click करने से पहले उससे नीचे लिखे कुछ लाइन को पढ़ कर उस content के बारे में समझने की कोशिश करते हैं । किसी Serach Engine में दिख रहे हरे रंग के नीचे जो content  होता है उसे ही Meta Description कहते हैं । इसलिए Meta Description short और page से Related होनी चाहिए । Meta Description को किसी भी Web Page का Secondary Keywords भी कहा जाता है । Meta Description Google को उस Page के बारे में बेहतर Idea देता है ।

5. Yoast SEO for WordPress

Yoast SEO WordPress Blogs का बहुत ही important plugin है । यह आपके Website को बेहतर Rank हासिल करने में भी मदद करता हैं । इसके द्वारा  Yoast SEO की ज़रूरत तब पड़ती है अगर आप अपना Blog WordPress की free सेवा यानी WordPress.com से चला रहे होते हैं । SEO Yoast आपको अपने Free Blog को बेहतर ढंग से बनाने की इजाज़त देता हैं । इसके द्वारा ही आप Title, keywords, meta Description इत्यादि को Control कर पाते हैं ।

6. Image SEO

Image यानी photo भी आपके Website को Rank हासिल करने में काफी मदद करता हैं । जब आप google पर किसी photo को देखते हैं तो उसके नीचे page Source का भी Option आता है । अगर आप Content में शामिल किए Image को भी बेहतर ढंग से परिभाषित करेंगे यानी की उससे संबन्धित सभी जानकारी बताए अनुसार देंगे तो जब भी कोई व्यक्ति उस image पर click करेगा तो इससे वह आपके Website पर आ जाएगा । यह भी आपके  Website की Reach बढ़ाने में काफी मदद करता है ।

7. Internal Linking

Internal Link आपके Website पर पहले से ही Published Content का link होता हैं । Internal Link भी Website की Reach बढ़ाने में मदद करता है । कब आप कोई नया Article Publish करें तो उसके साथ अपने पिछले किसी न किसी Article का link ज़रूर Link कर दें । अपने ही Website के Webpage को दूसरे Webpage से जोड़ना ही Internal Linking कहलाता है । यह भी SEO के नज़रिये से महत्वपूर्ण माना जाता है ।


8. Heading Tags ( H Tags )

Heading किसी भी Content का महत्वपूर्ण भाग माना जाता है ।  Google आपके Website की Headline को देखता है । इसी आधार पर Content का Rank भी Depend करता है । बेहतर Heading होने पर आपका Content आसानी से Search Engine Result Page पर आसानी से जगह बना लेता है । heading के साथ साथ आपको अपने Content में Sub Headings का भी ध्यान देना होता है। अगर आप Heading से Related Sub Headig Use करते हैं तो Content Rank आसानी से हासिल कर लेता है। Sub Heading में ज़्यादातर Primary और Secondary Keyword use किया जाता है ।

9. URL Structure

URL Structure हमेशा Primary Keywords को ध्यान में रखते हुए बनानी चाहिए । ऐसा करने से Website Google Search में आसानी से Visible होने लगता है । URL ही वह ज़रिया बनता है जिसके द्वारा कोई आपकी Website तक आने में कामयाब हो पाता है यानी की URL आपके blog का address होता है । URL Structure बनाते समय हमेशा यह ध्यान रखना चाहिए की URL हमेशा आसान और short रखना चाहिए साथ ही URL में हमेशा उन्ही words को शामिल करना चाहिए जो Keywords आपने Content में शामिल किया गया है ।

Terms of Off-Page SEO

जैसा की पहले ऊपर बताया गया है की Off Page SEO Post के Publish होने के बाद की बातों को बताता है । जैसे की post ( Content) को share करना, comment, reply करना समेत अन्य बातें शामिल होती है । अब विस्तार से बात करते हैं Off Page SEO के बारे में ।

Off page SEO के अंतर्गत निम्नलिखित बाते आती  हैं।

1. Sharing

आज के समय में Social Media के महत्व को बिल्कुल भी नज़रंदाज़ नही किया जा सकता है। इसलिए कब भी हम Website बनाते हैं, उसके साथ साथ विभिन्न Social Media Sites पर भी account ज़रूर बनाने चाहिए । क्यों की सिर्फ Website पर Content Share कर देना ही काफी नही होता है । इसे लोगो तक पहुचाने के लिए आपको उस जगह जा कर अपने Content / Website का link share करना चाहिए जहां पर अधिक संख्या में लोग हों । मौजूदा समय में share करने का सबसे आसान और बड़ा ज़रिया Facebook, Whatsapp, Twitter इत्यादि है ।  ऐसा करने से लोग आकर्षक Heading और Meta Description देख कर ज़रूर उस link पर Click करेंगे । इससे Website पर Traffic बढ़ने लगेगा ।

2. Commenting

अगर आप Facebook User होंगे तो आपने इस बात पर ज़रूर गौर किया होगा की जब कोई आपके या आपके दोस्त के सालों साल पुराने post पर comment  करता है तो वह फिर से आपके News Feed में दिखने लगता है । कुछ ऐसा ही Blogs के साथ भी होता है । जब कोई आपके Blogs पर comment  करेगा तो इससे Post पर Traffic बढ़ती है जिससे की Search Engine में यह दिखने लगेगा । इसलिए आप अपने Blogs को share करने के साथ साथ Comment भी करें ।

3. Like and Review

यह भी उसी आधार पर काम करता है जैसे की Sharing और Comments करते हैं । आपके Blogs को अगर ज़्यादा Like किया जा रहा हो या अच्छी Ratings मिल रही हो तो इससे भी Website पर असर पड़ता है और  Post पर बढ़ते Activity की वजह से Google इसे लोगों के लिए भी First Page पर  उपलब्ध करवाने लगता है ।

4. Answer Queries

जब भी हम किसी से सवाल करते हैं तो हमारी चाहत होती है की हमारे पूछे सवाल का का अवश्य ही जवाब मिले। अगर ऐसा नही होता है तो हमें बुरा लगता है और हम उससे सवाल करना बन्द कर देते हैं । कुछ ऐसा ही Digital दुनिया में भी होता है। इसलिए जब भी कोई आपके  Blogs पर कुछ सवाल करता है या comment करता है तो उसका जवाब ज़रूर दें । जवाब देने से आपके Blogs पर लोग सवाल पूछेंगे जिससे की Website पर Traffic भी बढ़ने लगेगा ।

5. Develop Communication

यह भी कुछ हद तक ऊपर के Point जैसा ही है। इसमें आपको करना यह है की आप समझने की कोशिश करें की आखिर Visitors आपके Blogs से क्या चाहता है । आप उनसे जुड़ने के लिए Regular Basis पर comments का और अगर blogs से जुड़े Social Media Sites पर message आते हैं तो उसका जवाब देने की कोशिश करें । इससे एक बेहतर रिश्ता बनता है जो की Website पर Traffic भी बढ़ाने मे मदद करता है ।

SEO से जुड़े अलग अलग Terms जानने के बाद ज़रूरी है की आप अपने Website को उसी अनुरूप ढालने की कोशिश करें । अब बात करते हैं एके Blogs में SEO के कुछ खास फायदे की।

Benefits of SEO For Bloggers

1. Long Lasting  Results

SEO का सबसे बड़ा फायदा है की जब आपका Blog SEO की कसौटी पर बिल्कुल खड़ा उतरता है और Search Engine में Top या First Page पर जगह बनाने में कामयाब हो जाता है तो फिर यह वहां पर लंबे समय तक बना रहता है। अक्सर Search Engine में कुछ Search करते हैं तो हमें देखने को मिलता है की जब Result आता है तो शुरू के कुछ लिंक्स के साथ Ads भी लिखा हुआ होता हैं। अर्थात वह पहले Page पर विज्ञापन के कारण पैसे खर्च कर है। जब विज्ञापन की समय सिमा खत्म हो जाती है तो Search Engine वह फिर कहीं गायब ही हो जाता है। लेकिन SEO में वह बात नही हैं। जब आप का Website एक बार Top में जगह बना लेता है तो फिर बढ़ते Traaffic के साथ पहले Page पर अपनी स्तिथि और भी मज़बूत कर लेता है। अगर कभी किसी कारणवश Top से हट भी जाता है तो फिर कुछ समय बाद ही visitors बढ़ने से वापस अपनी जगह पर आ जाता है।

2.  Promotion

जैसा की ऊपर बताया गया ही कुछ लोग पैसे दे कर विज्ञापन के माध्यम से अपने blogs को top पर ला कर Promotion करवाते हैं लेकिन SEO blogs top पर आ जाने के बाद किसी तरह का खर्च किए बिना ही Search Engine में Top पर आ जाता है जिससे की आपके Website का Promotion होता रहता है ।

3. Builds Trust

SEO का बड़ा फायदा यह है की जब आपका Website Search Engine के पहले Page पर आता है तो ऐसे में आपके Website पर लोगों का विश्वास और भरोसा बढ़ने लगता है। लोग बार बार आपकी Website पर आना शुरू कर देते हैं ।

4. Increase Traffic

SEO के सभी Stapes ठीक ठीक follow करने ले बाद जब content Publish करते हैं तो आपका Blog Search Engine में Top पर आ जाता है। इससे कई फायदा होता है इसमें से SEO का सबसे बड़ा फायदा यह है की इससे आपके Website पर Traffic में काफी बढ़ोतरी होती है। Traffic बढ़ने से आपके Website से होने वाली कमाई भी बढ़ जाती है।

इस post  को  पढ़ने के बाद आशा करते है की आपको SEO से सम्बंधित महत्वपूर्ण बातों का पता चल गया होगा। अगर आपके मन में SEO से सम्बंधित कोई और सवाल या संशय है तो Comment box में ज़रूर बताएं ।

हमारे साथ जुड़े रहने के लिए हमारे Social Sites के Pages( Facebook , Twitter और Google Plus ) को Like कर सकते हैं।

Add Comment

error: Content is protected don\'t copy !!